गुरुवार, 6 जनवरी 2011

प्री-टेक्निक युग की खुदाई












नीम का पेड़
छोटे -छोटे शालिग्राम
कुए का ठंडा पानी
और पीपल की नरम छांह

सुबह का कलेवा
'अग्गा राजा दुग्गा दरोगा'
गन्ने का रस और दही
साथ में आलू की सलोनी

गेरू और चूने से
लिपे पुते घर में
आँगन और तुलसी
दरवाजे की देहरी

ताख में रखा दिया
उजास का पहरिया
बाबा की झोपड़ी
और मानस की पोथी

लौकी की बेले
छप्पर पर आँखमिचौनी खेले

आमो का झूरना
महुए का बीनना
अधपके गेहू की
बाली का चूसना

बगल के बांसों की
बजती बांसुरी
खेत खलिहान में काम करते
बैल हमारे परिवार के

और पास में चरते
गोरू बछेरू घर के

प्री-टेक्निक युग की खुदाई में
मिली ये सारी वस्तुए
जिनको मैंने खोया था
कई बरस पहले
कई बरस पहले...............